राजेश अग्रवाल: स्टार्टअप के लिए इको सिस्टम बनाकर साथ आने की जरूरत

0
126

बदलते वक़्त के साथ भारत में बहुत से नए बदलाव देखने मिल रहे हैं, जिस से भारत एक प्रगतिशील देश बनने की राह पर दिख रहा है। वहीं आपको बतादें की एक स्टार्टअप किसी भी क्षेत्र के लिए बेजोड़ बुनियादी अंग हैं। साथ ही, किसी भी शहर में स्टार्टअप को बढ़ाने के लिए लोगों को साथ लाने की जरूरत है। इससे इन्क्यूबेशन सेंटर बनेंगे, जो विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं। लोगो के साथ आने से नई योजना सामने आयेंगी और उन पर काम कर आगे बढ़ा जा सकेगा।

स्टार्टअप के विषय को लेकर लंदन के डिप्टी मेयर फॉर बिजनेस राजेश अग्रवाल का यह कहना है कि स्टार्टअप्स को आगे बढ़ाने के लिए इको सिस्टम का बनाना जरुरी है। दरअसल, रविवार को हुए सीआईआई के कार्यक्रम में अग्रवाल ने अपना सुझाव दिया और भारत-यूके के बीच सहयोग, स्टार्टअप के लिए जरूरी तत्वों पर भी बात की।

अग्रवाल का यह भी कहना है की देश में विकास की नई परिभाषा लिखने के लिए स्टार्टअप्स और कॉरपोरेट का हाथ मिलाना जरुरी है। जिसके लिए सरकार एक एहम किरदार निभा सकती है। दरअसल, स्टार्टअप में नए इनोवेशन होते हैं, जबकि कॉरपोरेट में इनोवेशन नहीं होते, जिसके लिए ऐसा कदम उठाना बहुत जरुरी है। आपको बतादें की शहर में पिछले तीन सालों में करीब 500 स्टार्टअप शुरू हुए हैं। वहीं दूसरी तरफ मध्यप्रदेश सरकार ने स्टार्टअप के लिए हजारों करोड़ स्र्पये निवेश किए हैं। यह अच्छी शुरुआत है।

विचार मंथन

अग्रवाल ने बताया कि वह आईई-20 (इंडिया इमरजिंग-20) पर एक कंपनी लंदन इन पार्टनर्स के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। इस योजना के तहत भारत की 20 कंपनियों को लंदन में बिजनेस सेटअप करने में पूरा सहयोग किया जाएगा। इसके लिए कोई भी कंपनी एप्लाई कर सकती है। अगर वह योजना के लिए जरूरी शर्तों को पूरा करती है, तो उसे चयनित किया जा सकता है।

वहीं भारत में दूसरी तरफ बिज़नेस स्टैण्डर्ड के एक रिपोर्ट के मुताबिक सचिन बंसल और भविष अग्रवाल ने मिलकर एक लॉबी समूह के साथ डाला है। जहाँ विदेशी कारोबार के आक्रमण के खिलाफ भारतीय स्टार्टअप्स के लिए विचार करना जरुरी है।

इसी कारण फ्लिपकार्ट के बंसल और ओला के अग्रवाल ने हाथ मिला लिया है, एक ग्रुप को पेश करने के लिए। वहीं इस बात की आधिकारिक तौर पर घोषणा दिसंबर ६ और ७ को भारत में प्रौद्योगिकी इवेंट पर की जाएगी। वहीँ आने वाले वक़्त में यह उम्मीद लगाई जा रही है कि प्रैक्टो के शशांक एनडी, फ्रेशडेस्क के गिरीश मत्हरूबूथम और पेटीएम के विजय शेखर शर्मा भी इस से जुड़ेंगे ।

Banner