ब्रिक एंड मोर्टार (आँफलाइन) दुकानें इओऐसएसके दौरान ग्राहकों की तेज गिरावट देख रहे है: अध्ययन

0
98

ब्रिक एंड मोर्टार की दुकानों ने २६% जादा छुट देनेके बावजूद २०१५-१६ के विंटर एंड आँफ सिझन सेलमे (इओएसएस) २०१४-१५ के (इओएसएस) मुकाबला ५% ग्राहकोंकी कमी देखी, कँपीलीयरी टेक्नोलाँजीके सर्वेक्षणसे सामने आया।

आँनलाइन विक्रेताओंसे विपरीत जिन्होने छुट देनाही अपने धंदेका मुख्य माँडेल बनाया है, ब्रिक एंड मोर्टार के दुकानदारोंके लिये इओएसएस हि एकमात्र प्रमुख छुट देनेका समय रहता है जो उनके कुल बिक्रीको बढानेमे मुख्य योगदान देता है। लेकिन ग्राहकोंके खरिदारिके बर्तांओंमे सभी वस्तुओंपर सालभर छुट देनेसे और आँनलाइन और आँफलाइन कीमतोंमे अंतर होनेसे एक मुख्य बदल हुआ है।

इटेलिंग इंडिया थाँट काँर्नर

11
नयापन ब्रिक एंड मोर्टार के दुकानदारोंको पूनर्जिवीत कर सकते है।

ब्रिक एंड मोर्टार कि दुकाने ग्राहकोंके लिये वस्तु खरिदनेका एक सुंदर मेलका बिंदु रहा है। लेकिन जादा विक्रेता आँनलाइन हो जानेसे वे ग्राहक अनुभवमे और टेक्नाँलाँजी सुधारनेमे पिछे पड रहे है। शाँपर्स स्टाँपके अध्यक्ष चंन्द्रू एल रहेजाने कहाँ “ कंपनियोंके ओम्नीचनेल प्रस्ताव उनके उन्नतीके रणनीतीका मुख्य स्तंभ है।

अब हम इन भौतिक दुकानोंको इकाँमर्सके युगमे कैसे पुनर्जीवीत कर सकते है यह देखेंगे।

टेक्नोलोजी को अपनाना

पिओएस

पॉइंट ऑफ़ सेल को डीजीटाइज करके ऑनलाइन और ऑफलाइन सूचि एकत्र करना चाहिए, सुचिपर नज़र रखने के लिए| शाँपीफाय, ओर्किव,स्क्वायर और शाँपट्राँन पिओएस प्रणाली यूज़ कर सकते है जो आपको विक्रिकी सूचि को आपके पिओएस सेवा देने वाले के साथ दोबारा जाचने की मदत करता है |

संवर्धित वास्तविकता

संवर्धित वास्तविकता आधारभूत ट्रायल रूम्स ग्राहकोको ग्रहणशील और स्पर्शनीय अनुभव दे सकते है लेकिन बड़े पैमाने पर लागु करनेके के पाहिले जाचना जरुरी है |

किम्तोकी की तुलना, दुकानोमे ब्रोसिंग के टर्मिनस ,एनफसी भुगतान और ग्राहकोकी गतिशीलता यह अन्य वैशिष्ट्य है जो मूल्याकन और उपयोगिता को देखके समाविष्ट कर सकते है|

शोरुमिंग विरूद्ध वेबरूमिंग

शोरूमिंग एक प्रथा है जहाँ चिजोंकी पारंपारिक ब्रिक एंड मोर्टार के दुकानोंमे छानबीन कर सकते है या अन्य आँफलाइन सेटिग, और बादमे उनको कभी कभी कम किमतमे ऑनलाइन खरीदना |

वेबरूमिंग यह शोरूमिंग से उल्टा दौर है| फाँरेस्टर रिसर्च के अनुसार वेबरूमिंग की वजहसे $ १.८ ट्रिलीयन की दुनियामे २०१८ तक विक्री होगी | इसको अपनानेके कुच तरीके इस प्रकार है|

आँनलाइन जानकारी प्रदान करना

आधे ग्राहक आँनलाइनमे विश्वास रखते है और मोबाईलके अँडसको चिजोंकी दुकानोंकी कीमते समझनेमे मदद करते है ऐसा मानते है। इटऔर पत्थरकी दुकानोंके खिलाडीयोंको वैयक्तिक आँनलाइन विज्ञापनका समतोल रखना होगा जितनाकी उनके इकाँमर्सके सहकारी उनके दुकानोंमे आकर्षित करनेके लिये करते है।
बिकाँन और वाय-फायका उपयोग

४०% से जादा ग्राहक दुकानोंमे रहते हुए अपने मोबाईल उपकरणोंपर प्रस्ताव देखते है। स्पर्शबींदु बनाके जिसके द्वारा रिटेलर्स ग्राहकोंके खरिदारी उद्देश्यको प्रभावित कर सकते है, मददगार हो सकते है।

ब्लुटूथ टेक्नाँलाँजी, ग्राहकोंके साथ मोबाईलके उपर बिकाँनसे जुडना, दुकानोंके अंदरका खरिदारीका अनुभव बेहतर बनाना और अंतमे ग्राहकोंको अच्छे खरिदारिकी ओर प्रवृत्त करना।

दुकानोंके अंदरका डेटा लेव्हरेज करना

ग्राहक बाहर जानेके बाद, वे दुकानोंमे कैसे चालाकी करते है ईसकी इकठ्ठा कि हुई जानकारी ब्रिक एंड मोर्टार के रिटेलर्सको ग्राहक फिरसे आँनलाइन आनेके बाद उनको अच्छी तरहसे विभागनेमे और फिरसे आकर्षित कर सकते है।

दर्शकोंका निशाना

ग्राहकोंको प्राप्त करनेके लिये योग्य रास्ते खोजीयें। फेसबुक, पींटरेस्ट, येल्प, ट्विटर, गुगल लक्षित अभियान, दुकानोंके स्थानके अनुसार विभागनेमे उपयोग कीजिए। आप तब योग्य मेट्रिक्स नाप सकते है। आप प्राँक्सिमो जैसे उपकरणका उपयोग कर सकते है जो भौगोलिक स्थान और आयपी देखते है, प्रोत्साहन देकर दुकानोंमे आकर खरिदारी करनेके लिये।

खरिदारिका जीवनचक्र उन्नत करना

दुकानका यह कर्तव्य है कि ग्राहकोंका खरिदारीका जीवनचक्र सभी ओर आसान करके उनका जीवन सुसह्य करना। प्रक्रिया, जैसे दुकानोंके अंदर चुनना या पँकिंग और माल भेजना यह अब दुकानोंके अंदरही कार्यान्वित होती है। इनमे श्रमका समय निर्धारण, पीक पाथका जादा उपयोग, प्लँनोग्रामिंकी पध्दती जीसे मिमांसाकी जरूरत है, इनके साथ एकदूसरेसे जुडे हुये पहलु शामिल है।

इसलिए ब्रिक एंड मोर्टार के दुकानोंके लिये निरंतर प्रासंगिकताका अच्छा भविष्य है।

Likeब्रिक एंड मोर्टार (आँफलाइन) दुकानें इओऐसएसके दौरान ग्राहकों की तेज गिरावट देख रहे है: अध्ययन CommentShareShare ब्रिक एंड मोर्टार (आँफलाइन) दुकानें इओऐसएसके दौरान ग्राहकों की तेज गिरावट देख रहे है: अध्ययन

Banner